Category Archives: नक्षत्रों

नक्षत्र का आपके जीवन पर क्या प्रभाव पड़ता हैं

चन्द्रमा का एक राशिचक्र 27 नक्षत्रों में विभाजित है, इसलिए अपनी कक्षा में चलते हुए चन्द्रमा को प्रत्येक नक्षत्र में से गुजरना होता है। आपके जन्म के समय चन्द्रमा जिस नक्षत्र में स्थित होगा, वही आपका जन्म नक्षत्र होगा। आपके वास्तविक जन्म नक्षत्र का निर्धारण होने के बाद आपके बारे में बिल्कुल सही भविष्यवाणी की…..

27 नक्षत्रों की जानकारी

अश्विनी नक्षत्र: अश्विनी नक्षत्र देवता : अश्विनीकुमार नक्षत्र स्वामी : केतु नक्षत्र आराध्य वृक्ष : कुचला राशी व्याप्ती : ४ हि चरण मेष राशी मे नक्षत्र प्राणी: घोडा नक्षत्र तत्व : वायु नक्षत्र स्वभाव : शुभ वेद मंत्र:ॐ अश्विनौ तेजसाचक्षु: प्राणेन सरस्वती वीर्य्यम वाचेन्द्रो बलेनेन्द्राय दधुरिन्द्रियम । ॐ अश्विनी कुमाराभ्यो नम: । पौराणिक मंत्र:अश्विनी देवते…..

27 नक्षत्रों के वेद मंत्र

अश्विनी नक्षत्र वेद मंत्र:ॐ अश्विनौ तेजसाचक्षु: प्राणेन सरस्वतीवीर्य्यम वाचेन्द्रो बलेनेन्द्रायदद्युरिन्द्रियम । ॐ अश्विनी कुमाराभ्यो नम: === 5000 भरणी नक्षत्र वेद मंत्र:ॐ यमाय त्वाङ्गिरस्य्ते पितृिमते स्वाहा स्वाहा धर्माय स्वाहा धर्मपित्रे । 10000 कृतिका नक्षत्र वेद मंत्र:ॐ अयमग्नि सहस्रीणो वाजयस्य शान्ति (गुं) वनस्पति: मूर्द्धा कबोरयीणाम् । अग्नये नम: 10000 रोहिणी नक्षत्र वेद मंत्र:ॐ ब्रहमजज्ञानं प्रथमं पुरस्ताद्विसीमत: सूरुचे…..