टाइगर स्टोन

Tiger Gemstone 2
Share this to
  • 25
  •  
  • 12
  •  
  •  
    37
    Shares

टाइगर स्टोन निम्रलिखित परिस्थितियों में भी लाभदायक है।

  1. जन्मकुंडली में यदि किसी घर के शुभ फल आपको प्राप्त नहीं हो रहे हैं या यदि कोई ग्रह सोया हुआ है तो उस ग्रह के स्वामी ग्रह को जगाना अनिवार्य होता है, जिससे उस घर का शुभ फल मिलता है।
  2. जन्मपत्रिका में कुयोग बन रहे हों तो उन योगों के कुप्रभावों को कम करने के लिए भी टाइगर रत्न धारण करना चाहिए।
  3. यदि आप निरंतर कर्ज में डूबते जा रहे हों तो कर्ज मुक्ति के लिए शुक्रवार के दिन सिद्ध किया हुआ स्टोन गले में लॉकेट के रूप में श्वेत धागे में धारण करें।
  4. बार-बार वाहन दुर्घटना में चोट लग जाती है तो तर्जनी उंगली में टाइगर स्टोन प्राण प्रतिष्ठा कराकर मंगलवार के दिन धारण करें।
  5. घर में जिन बच्चों व व्यक्तियों को बार-बार नजर लगती है, मानसिक तनाव रहता है तो उन्हें टाइगर स्टोन गले में धारण करना चाहिए।
  6. शत्रुओं से पीड़ित व्यक्ति मंगलवार के दिन टाइगर रत्न धारण करें।
  7. कार्य स्थल पर व अन्य जगहों से मान, प्रतिष्ठा, प्रसिद्धि प्राप्त करने व यश, कीर्ति की पताका फहराने के इच्छुक टाइगर स्टोन शुक्ल पक्ष की अष्टमी को तर्जनी उंगली में या अनामिका उंगुली में धारण करें।
  8. जो व्यक्ति अपनी पत्नी से घबराता हो या कलह से डरता हो एवं जिसकी पत्नी अधिक बोलती है, समाज में प्रतिष्ठा उसी के कारण कम हो तो टाइगर रत्न तर्जनी उंगली में पूर्णिमा के दिन धारण करें।
  9. जिसका व्यापार घाटे में जा रहा हो, सरकारी परेशानियां बढ़ती ही जा रही हों, वर्तमान में घाटा आ रहा हो तो टाइगर स्टोन शुक्ल पक्ष में बुधवार के दिन सूर्य की अनामिका उंगली में धारण करना चाहिए।
  10. जिस व्यक्ति का विवाह नहीं हो रहा हो, सगाई भी नहीं होती हो, तो उस जातक को टाइगर रत्न ऋषि पंचमी को तर्जनी उंगली में धारण करना चाहिए। विवाह शीघ्र सुयोग्य लड़की से होगा।
  11. जिस लड़की का विवाह नहीं हो रहा हो, सगाई छूट जाती हो या सगाई हो ही नहीं रही हो तो उस लड़की को नाग पंचमी को प्रात: नाग के दर्शन कर यह टाइगर स्टोन धारण करना चाहिए।
  12. जिन व्यक्तियों को सर्विस में नुक्सान हो रहा हो या कार्यस्थल में परेशानी हो तो टाइगर रत्न रविवार को दिन में धारण करने से लाभ होगा।
  13. जिन व्यक्तियों के संतान होती है, वह मर जाती है तो दोनों पति-पत्नी बराबर वजन का टाइगर स्टोन प्राण प्रतिष्ठा कराकर शुक्ल पक्ष में जब स्त्री मासिक धर्म में हो तब एक साथ धारण करें। संतान सुख मिल जाएगा, गर्भपात होता है तो तुरंत लाभ होगा।
  14. जिस घर में लड़ाई-झगड़ा अधिक होता हो तथा सुख-शांति न हो विशेष परेशानी हो, छोटी-छोटी बातों पर क्लेश हो जाता है तो उस परिवार का मुखिया टाइगर स्टोन सोमवार के दिन प्रात: आम के पत्ते के रस का अभिषेक कर धारण करे।

टाइगर स्टोन सिद्ध व प्राण प्रतिष्ठित होना चाहिए।

सोया ग्रह – धारण करने का वार – धारण करने की उंगली

  • सूर्य ग्रह – रविवार के दिन – अनामिका उंगली में।
  • चंद्रमा – सोमवार के दिन – अनामिका उंगली में।
  • मंगल ग्रह – मंगलवार के दिन – तर्जनी उंगली में।
  • बुध ग्रह – बुधवार के दिन – कनिष्ठा उंगली में।
  • गुरु ग्रह – वीरवार के दिन – तर्जनी उंगली में।
  • शुक्र ग्रह – शुक्रवार के दिन – गले में धारण करें।
  • शनि ग्रह – शनिवार के दिन – मध्यमा उंगली में।
  • राहू ग्रह – बुधवार के दिन – दाएं हाथ में।
  • केतु ग्रह – बुधवार के दिन – बाएं हो।

सावधान रहे – रत्न और रुद्राक्ष कभी भी लैब सर्टिफिकेट के साथ ही खरीदना चाहिए। आज मार्केट में कई लोग नकली रत्न और रुद्राक्ष बेच रहे है, इन लोगो से सावधान रहे। रत्न और रुद्राक्ष कभी भी प्रतिष्ठित जगह से ही ख़रीदे। 100% नेचुरल – लैब सर्टिफाइड रत्न और रुद्राक्ष ख़रीदे, अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

अगर आपको यह लेख पसंद आया है, तो हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब करें, नवग्रह के रत्न, रुद्राक्ष, रत्न की जानकारी और कई अन्य जानकारी के लिए। आप हमसे Facebook और Instagram पर भी जुड़ सकते है

नवग्रह के नग, नेचरल रुद्राक्ष की जानकारी के लिए आप हमारी साइट Gems For Everyone पर जा सकते हैं। सभी प्रकार के नवग्रह के नग – हिरा, माणिक, पन्ना, पुखराज, नीलम, मोती, लहसुनिया, गोमेद मिलते है। 1 से 14 मुखी नेचरल रुद्राक्ष मिलते है। सभी प्रकार के नवग्रह के नग और रुद्राक्ष बाजार से आधी दरों पर उपलब्ध है। सभी प्रकार के रत्न और रुद्राक्ष सर्टिफिकेट के साथ बेचे जाते हैं। रत्न और रुद्राक्ष की जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।


Share this to
  • 25
  •  
  • 12
  •  
  •  
    37
    Shares
Gems For Everyone Reviews Gems For Everyone Reviews Gems For Everyone Reviews Gems For Everyone Reviews कुंडली से लग्न की पहचान Rudraksha as Per Rashi – राशि के अनुसार रुद्राक्ष Rudraksha as Per Lagna – लग्न के अनुसार रुद्राक्ष Lagna as per Kundli Customer Reviews Customer Reviews