कुंडली से जानिऐ आपके इष्ट देव कौन है

Share this to
  • 25
  •  
  • 11
  •  
  •  
    36
    Shares

आपकी कुंडली मैं पंचम भाव का स्वामी ग्रह (पंचमेश) आपके इष्ट देव है।
चाहे लाख दोष हो आपकी कुंडली मैं अच्छा फल नहीं दे रहे हो तो।
इष्टदेव की आराधना, उपासना, वंदना, पूजा करने से बहुत से परेशानी से मुक्ति मिलेगी।

  • मेष लग्न
    सूर्य देवता, गायत्री देवी आपके इष्ट है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी
  • वृषभ लग्न
    बुध देवता, गणेश जी आपके इष्ट है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी
  • मिथुन लग्न
    शुक्र देवता, माँ दुर्गा आपके इष्ट है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी
  • कर्क लग्न
    मंगल देवता, हनुमान जी आपके इष्ट देव है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी
  • सिंह लग्न
    देव गुरु बृहस्पति, विष्णु जी आपके इष्ट देव है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी
  • कन्या लग्न
    शनि देवता, शिव जी आपके इष्ट देव है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी
  • तुला लग्न
    शनि देवता, शिव जी आपके इष्ट देव है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी
  • वृश्चिक लग्न
    देव गुरु बृहस्पति, विष्णु जी आपके इष्ट देव है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी
  • धनु लग्न
    मंगल देवता, हनुमान जी आपके इष्ट देव है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी
  • मकर लग्न
    शुक्र देवता, माँ दुर्गा आपके इष्ट है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी
  • कुम्भ लग्न
    बुध देवता, गणेश जी आपके इष्ट है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी
  • मीन लग्न
    चंद्र देवता, शिव जी आपके इष्ट देव है उनका मंत्र, पूजन, पाठ आरती आपके लिए सदैव लाभकारी रहेगी

इस तरह अपने सही इष्ट को पहचान कर उसकी नित्य आराधना करने वाले को आरोग्य, सौभाग्य, सम्मान, इष्टवल, एवं योग्यताकी प्राप्ती होती है.


Share this to
  • 25
  •  
  • 11
  •  
  •  
    36
    Shares
कुंडली से लग्न की पहचान Rudraksha as Per Rashi – राशि के अनुसार रुद्राक्ष Rudraksha as Per Lagna – लग्न के अनुसार रुद्राक्ष Lagna as per Kundli Customer Reviews Customer Reviews